1
भारतीय मनीषा में हठयोग की परिकल्पना को साकार करने वाले शिवावतार महायोगी गुरु गोरक्षनाथ की तपस्थली गोरक्षनाथ मंदिर में मकर संक्रांति के महापर्व पर सोमवार को श्रद्धालुओं ने खिचड़ी चढ़ायी और दान-पुण्य का लाभ अर्जित किया। गोरक्षपीठ उत्तराधिकारी व सदर सांसद योगी आदित्यनाथ के मुताबिक दोपहर डेढ़ बजे तक 11लाख से ज्यादा श्रद्धालु महायोगी बाबा गोरक्षनाथ का दर्शन कर चुके थे। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि देश के कोने-कोने से श्रद्धालु यहां आए थे। मंदिर परिसर में उमड़े जनसमुद्र को देखकर यही लगा कि यहां आस्था का सैलाब उमड़ आया है।
मंदिर के कपाट सुबह 3 बजे खोल दिए गए। पूजा-अर्चना के बाद योगी आदित्यनाथ ने सबसे पहले मंदिर की खिचड़ी और उसके बाद नेपाल राजपरिवार की खिचड़ी व वहां से आया रोट (एक खास तरह की मिठाई) का महाप्रसाद चढ़ाया। इसके बाद श्रद्धालुओं के लिए कपाट खोल दिए गए। खिचड़ी चढ़ाने का सुबह 3 बजे शुरू हुआ सिलसिला देर शाम तक चलता रहा। लोगों ने खिचड़ी चढ़ाने के बाद मेले का भी आनंद लिया।

keyword: makar sankranti

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गुगल सर्च से ली गई है, यदि किसी फोटो पर किसी को आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगीा

Post a Comment

  1. This kind of rituals are new to me. Thanks for sharing!

    ReplyDelete

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top