1
भारतीय ज्योतिर्विदों ने घटी, पल, विपल से काल गणना की है और भारतीय पंचांग, घंटा, मिनट, सेकेंड के साथ घड़ी, पल व विपल को भी दर्शाते हैं। इस भारतीय पद्धति का परिचय निम्न है-
3 लव का 1 निमेष, 3 निमेष का एक क्षण। पांच क्षण का 1 काष्ठा। 15 काष्ठा का 1 लघु। 15 लघु की एक घड़ी। 2 घड़ी का 1 मुहूर्त। 60 घड़ी का दिन-रात। 7 दिन-रात का 1 सप्ताह। 15 दिन-रात का एक पक्ष। 2 पक्ष का 1 मास। 12 मास का 1 वर्ष। घड़ी के साथ पल-विपल का आंकलन पंचांग में किया जाता है। 1 घड़ी= 60 पल। 1 पल= 60 विपल। 60 घड़ी= एक दिन-रात। अंग्रेजी समय के अनुसार 24 घंटे = 60 घड़ी। एक घंटे में ढाई घड़ी व एक मिनट में ढाई पल होते हैं। समय निर्धारण में पृथ्वी पर कोणात्मक माप के लिए अक्षांश तथा देशांतर रेखाओं का सुगम तरीका अपनाया जाता है।

आचार्य शरदचंद्र मिश्र


keyword: jyotish, siddhant-jyotish

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गुगल सर्च से ली गई है, यदि किसी फोटो पर किसी को आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगीा

Post a Comment

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top