1
प्राय: शिवजी का व्रत स्त्री-पुरुष दोनों रखते हैं और इसका प्रावधान भी है। शिव चौदश एवं महाशिवरात्रि भी गवान सदाशिव के प्रमुख पर्व हैं। भोले व परम उदार शिव जी के व्रत के लिए मुख्यत: 16 सोमवार का विधान है। स्त्रियां सोमवार और प्रदोष का व्रत रख सकती हैं। कुंवारी कन्याओं के लिए शिवजी की उपासना, व्रत एवं मंत्र अत्यन्त उपयोगी है। मनोनुकूल जीवन साथी की प्राप्ति के लिए यह अति महत्वपूर्ण है। व्रत के दिन शिव स्त्रोत और शिवाष्टक का पाठ अवश्य करें।
भगवान शिव के मंत्रों में पंचाक्षरी मंत्र अत्यंत सरल एवं उपयोगी है। इस मंत्र के जाप से दैहिक, दैविक और भौतिक ताप तो नष्ट होते ही हैं मनोवांछित फल की प्राप्ति भी होती है, यथा दरिद्र को सम्पन्नता, संघर्षरत को विजय, विद्यार्थी को विद्या, कन्या को श्रेष्ठ वर, विवाहिता को दाम्पत्य सुख व सौभाग्य, संतानहीन को संतान, व्यवसायियों को व्यावसायिक प्रगति, रोगी को आरोग्य और अन्यान्य कामनायें पूरी होती हैं।
पंचाक्षरी मंत्र:- ‘ऊँ नम: शिवाय’
अष्टाक्षरी मंत्र:-‘ह्रीं ऊँ नम: शिवाय ह्रीं’
भगवान शिव की उपासना, उनका महात्म्य एवं व्रत तथा मंत्र सबका सब इस कलियुग में कल्याण के लिए उपयोगी है। इनका व्यवहार करके कोई भी अपना जीवन सुख व संतोष से परिपूर्ण कर सकता है।
पति विमुख और परित्यक्ता स्त्रियां यदि भगवान् शिव का व्रत एवं उपासना इस कामना के साथ करें कि उन्हें अपने पति का वांछित स्रेह प्राप्त हो तो एक न एक दिन उनको सफलता अवश्य मिलती है। विमुख पति सारी कटुताओं को भूलकर अपनी प्रिया के स्रेह-प्यार में आबद्घ हो जाता है।
भगवान आशुतोष परम उदार हैं अर्थात् शीघ्र प्रसन्न होने वाले देवाधिदेव। कुंवारी कन्याओं के लिए उनकी उपासना-पूजा अत्यंत शुभ एवं फलदायी होती है। स्वयं शिव प्रिया अर्थात् पार्वती ने उनसे विवाह की कामना करके उनकी आराधना की थी और उनकी मनोकामना पूर्ण हुई थी।
आज भी जो कुंवारी कन्या सोमवार का व्रत रखकर पूर्ण श्रद्घा एवं विश्वास से शिव जी की उपासना-साधना और पूजा करती है उसको मनोवांछित वर अर्थात् जीवन साथी की प्राप्ति होती है। ऐसे माता पिता जो अपनी संतानों के विवाह को लेकर चिन्तित एवं परेशान हैं उन्हें चाहिए कि उपरोक्त वर्णित मंत्र का विधिवत् पाठ करें कि उनकी मनोकामना पूर्ण होगी अविवाहित युवक यदि मनोवांछित जीवन संगिनी चाहते हैं तो शिव उपासना उनके लिए भी शुभदायक है।
अरविन्‍द सिंह

keyword: shivratri

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गुगल सर्च से ली गई है, यदि किसी फोटो पर किसी को आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगीा

Post a Comment

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top