0
बुध 1, 2, 5, 6 व 7वें घर में शुभ फल देता है। कुण्डली में बुध चौथे घर में बैठा हो तो अनेक प्रकार की क्षति पहुंचाता है। जातक के बोलने की शक्ति कम हो जाती है या आत्मविश्वास में कमी आती है तथा गले में बीमारी भी हो सकती है।
उपाय- बुधवार का व्रत रखें। शाम को मीठा भोजन करें और भोजन का प्रथम गाय को खिलाएं। किसी पशु पक्षी का पालन- पोषण स्नेहपूर्वक करें। किसी आवश्यक कार्य के लिए जाते समय मुंह में जीरा डालकर जाएं। सुहागिन स्त्रियों को भोजन कराएं तथा चूड़ी दान करें। कान छिदवाकर बाली पहनें। हरा रुमाल सदा अपने पास रखें। कौड़ियों को आग से जलाएं और राख को उसी दिन नदी के जल में प्रवाहित कर दें। ताम्बे के पैसे में छेदकर बहते पानी में प्रवाहित करें। दुर्गा चालीसा का पाठ करें। कन्या को भोजन कराएं और पूजा करें। धार्मिक संस्थाओं में शुभ कार्य के लिए यथाशक्ति दान दें।
आचार्य शरदचंद्र मिश्र, 430 बी आजाद नगर, रूस्तमपुर, गोरखपुर

keyword: lal kitab

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गुगल सर्च से ली गई है, यदि किसी फोटो पर किसी को आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगीा

Post a Comment

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top