0
नरेंद्र मोदी का जन्म वृश्चिक राशि तथा वृश्चिक लग्न में हुआ है । वृश्चिक राशि में शनि की साढ़ेसाती चल रही है ।जिस कारण से नरेंद्र मोदी सरकार की किरकिरी हो रही है । चन्द्रमा वृश्चिक राशि में नीच के होते है, चन्द्रमा मन के कारक ग्रह है उस पर शनि का गोचर में होना मानसिक परेशानी बढाकर रखेगा, अपने सहयोगी संकट उत्पन्न करते रहेंगे, पार्टी में असन्तोष भी दिखेगा किसी उच्च पदस्थ व्यक्ति का इस्तीफा भी हो सकता है । चंद्र स्त्री कारक ग्रह है अतः स्त्रियों के कारण संकट अधिक् रहेगा । राहत की बात यह है कि मोदी की कुंडली में चंद्र की महादशा में गुरु की अंतर्दशा चल रही है दोनों कारक ग्रह है, तमाम समस्याओ के बावजूद मोदी अपनी मेहनत और कार्यकुशलता से लोकप्रिय बने रहेंगे । मोदी की कुंडली और प्रश्न कुंडली देखकर प्रसिद्द ज्योतिषी आचार्य पवन त्रिपाठी ने यह भविष्यवाणी की है । त्रिपाठी के अनुसार प्रश्न कुंडली में तुला लग्न आ रहा है द्वितीय स्थान वृश्चिक राशि में चंद्र शनि की युति है । जिस कारण केंद्र सरकार को अपने सहयोगियों को संगठित करने में दिक्कत आएगी तथा देश की अर्थव्यवस्था को भी सही रखना एक चुनौती होगी ।प्रदेश के सरकारो के कारण भी संकट आएंगे। षष्ठ स्थान में मीन के केतु है अतः उत्तर भारत में सत्तासीन उच्च पदस्थ व्यक्ति को अपना पद छोड़ना पड़ सकता है उससे देश में राजनितिक माहौल गर्म होगा । प्रश्न कुंडली में भी कर्म स्थान में उच्च के गुरु है जिस कारण मोदी की व्यक्तिगत छवि को ज्यादा नुकसान नहीं होगा।

आचार्य पवन त्रिपाठी

Keywords: jyotish

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गूगल खोज से ली गई हैं, यदि किसी फोटो पर किसी को कॉपीराइट विषय पर आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगी।

Post a Comment

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top