0
हरिशयनी एकादशी 27 जुलाई 2015 दिन सोमवार को पड़ रही है। इस दिन सूर्योदय 5 बजकर 22 मिनट और एकादशी तिथि का मान रात्रि 8 बजकर 31 मिनट तक है। आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को हरिशयनी एकादशी कहते हैं। इस दिन भगवान विष्णु क्षीर सागर में शेष शैय्या पर शयन करने के लिए चले जाते हैं और चार माह बाद कार्तिक शुक्ल एकादशी को योग निद्रा का त्याग करते हैं जिसे देवोत्थान एकादशी के नाम से जाना जाता है। देवोत्थान एकादशी 22 नवंबर 2015 को पड़ेगी। भगवान के शयन के इन चार महीनों को चातुर्मास्य कहते हैं। इन चार महीनों में सभी शुभ व मांगलिक कार्य वर्जित कर दिए जाते हैं। केवल पूजा-पाठ आदि में समय बिताने का विधान है।
-आचार्य शरदचंद्र मिश्र, 430 बी आजाद नगर, रूस्तमपुर, गोरखपुर

Keywords: hindu

नोट- इस वेबसाइट की अधिकांश फोटो गूगल खोज से ली गई हैं, यदि किसी फोटो पर किसी को कॉपीराइट विषय पर आपत्ति है तो सूचित करें, वह फोटो हटा दी जाएगी।

Post a Comment

gajadhardwivedi@gmail.com

 
Top