0
गीताप्रेस के गतिरोध से पाठक चिंतित गीताप्रेस के गतिरोध से पाठक चिंतित

वेतन वृद्धि को लेकर कर्मचारियों की हड़ताल के चलते गीताप्रेस में पैदा हुए गतिरोध है को लेकर पाठक चिंतित हैं। विभिन्न माध्यमों से वे खुलकर अपन...

Read more »

0
1 सितंबर को टूट सकता है गीता प्रेस का गतिरोध 1 सितंबर को टूट सकता है गीता प्रेस का गतिरोध

- -------------- श्रमिकों के हड़ताल से जूझते गीता प्रेस का गतिरोध एक सितंबर को टूट सकता है। इस दिन गोरखपुर के उप श्रम आयुक्त की देखरेख में...

Read more »

0
कहीं किस्‍सा तो नहीं हो जाएगा गीताप्रेस कहीं किस्‍सा तो नहीं हो जाएगा गीताप्रेस

-8 अगस्त से गीता प्रेस में छपाई का काम बंद, बाहरी हस्तक्षेप से बिगड़ा माहौल -न कर्मचारी झुकने को तैयार न प्रबंधन समूची दुनिया को धर्म और अ...

Read more »

0
शिव आग हैं और अनादि हैं शिव आग हैं और अनादि हैं

भगवान शिव अनादि हैं और आग के समान हैं। जल जाने का साहस हो तो ही शिव की शरण में जाओ। सच यह है कि जो शिव के पास गया वह जला और जो जला वही बचा भ...

Read more »

0
गो प्रेमी भगवान शिव गो प्रेमी भगवान शिव

भगवान शिव का गोवंश के प्रति अगाध लगाव रहा है। लोक कल्याणकारी गो माता की महिमा से भगवान शिव भलीभांति विज्ञ थे। स्कंद पुराण के अनुसार एक बार अ...

Read more »

2
शिवाश्रय ही दु:ख निवृत्ति का उपाय शिवाश्रय ही दु:ख निवृत्ति का उपाय

भवसागर में पड़े हुए जीवों के लिए शिवाश्रय ही दु:ख निवृत्ति की सुखद नौका है। शिव शब्द कल्याण का पर्याय है। पुराणों के अनुसार जगत कल्याण के लि...

Read more »

0
साक्षीत्व ही शिवत्व है साक्षीत्व ही शिवत्व है

साक्षी होना शिव होने की यात्रा है। साक्षी हो गए तो शिव हो गए। साक्षीत्व ही शिवत्व है। शिव-सूत्र में भगवान शिव कहते हैं कि विस्मय योग की भूमि...

Read more »

0
सर्वे देवा: शिवात्मका: सर्वे देवा: शिवात्मका:

सर्वदेवात्मको रुद्र: सर्वे देवा: शिवात्मका:। अर्थात रूद्र सर्वदेवात्मक हैं और सभी देवता शिवात्मक हैं। शिव शब्द का अर्थ ही है कल्याणकारी। रूद...

Read more »

0
सृष्टि के उद्गम स्थल हैं शिव सृष्टि के उद्गम स्थल हैं शिव

भगवान शिव सृष्टि के उद्गम स्थल हैं। उन्हीं से सृष्टि निकलती है और अंत में उन्हीं में सृष्टि का लय हो जाता है। शिवलिंग शिव के इसी गुण का प्रत...

Read more »

2
सोमवार ही शिव का दिन क्यों? सोमवार ही शिव का दिन क्यों?

सनातन धर्म में हर दिवस का संबंध किसी न किसी देवता से है। रविवार को भगवान भास्कर की उपासना की जाती है। मंगलवार को भगवान् मारूतिनन्दन का दिन ...

Read more »

0
हरियाली तीज 17 को हरियाली तीज 17 को

श्रावण मास के तृतीय सोमवार यानी 17 अगस्त 2015 को हरियाली तीज है। इसे कजली तीज के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन सूर्योदय 5 बजकर 34 मिनट और त...

Read more »

0
काल सर्प योग की शांति का उत्तम दिन नागपंचमी काल सर्प योग की शांति का उत्तम दिन नागपंचमी

19 अगस्त बुधवार 2015 को सूर्योदय 5 बजकर 35 मिनट और पंचमी तिथि का मान 57 दंड 26 पल अर्थात अद्र्धरात्रि पश्चात रात्रिशेष 4 बजकर 33 मिनट तक है।...

Read more »

1
योग का महत्‍व योग का महत्‍व

आत्‍मोन्‍नति के साधन के रूप में योग की महत्‍ता को प्राय: सभी दर्शनों ने स्‍वीकार किया है। यहां तक कि वेद, उपनिषद, स्‍मृति व पुराण में भी योग...

Read more »

0
योग में ईश्वर का स्थान योग में ईश्वर का स्थान

प्राचीन योग दर्शन में ईश्वर का स्थान बहुत महत्वपूर्ण नहीं दिखता है। स्वयं पतंजलि को जगत की समस्या हल करने के लिए ईश्वर की आवश्यकता नहीं दिखा...

Read more »

0
समाधि समाधि

समाधि की अवस्था में मन ध्येय विषय पर इतना लीन हो जाता है कि उसे स्वयं का कुछ भी ध्यान नहीं रहता है। इसका अर्थ है ध्येय विषय में डूबकर अपने क...

Read more »

1
ध्यान ध्यान

ध्यान का अर्थ है ध्येय विषय पर निरंतर चिंतन, अर्थात उसी विषय को लेकर विचारों का लगातार प्रवाह। इसके द्वारा सुस्पष्ट ज्ञान हो जाता है। उस वस्...

Read more »

0
धारणा धारणा

धारणा का अर्थ है चित्त को अभिष्ट विषय पर जमाना। यह बाह्य पदार्थ भी हो सकता है। जैसे सूर्य या अपने धर्म से संबंधित किसी देवता की प्रतिमा और अ...

Read more »

0
हजरत मुबारक खां शहीद अलैहिर्रहमां का उर्स-ए-पाक 12 अगस्त से शुरू हजरत मुबारक खां शहीद अलैहिर्रहमां का उर्स-ए-पाक 12 अगस्त से शुरू

  गोरखपुर। नार्मल स्थित हजरत मुबारक खां शहीद अलैहिर्रहमां का सालाना उर्स-ए-पाक 12 , 13, 14 अगस्त को अदबो एहतराम व अकीदत के साथ मनाया जायेग...

Read more »
 
Top